Home Desh Amphan Cyclone: 1999 के बाद दूसरी बार महातूफान ‘अम्फान’ का सामना करेगा...

Amphan Cyclone: 1999 के बाद दूसरी बार महातूफान ‘अम्फान’ का सामना करेगा भारत

mahatoofan

Cyclone Amphan: 1999 के बाद दूसरी बार महातूफान का सामना करेगा भारत, सेनाएं अलर्ट चक्रवाती तूफान मंगलवार शाम तक एक अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जाएगा। भारतीय मौसम विभाग ने इस बात की जानकारी दी है। बताया गया है कि चक्रवात के चलते ओडिशा के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलने के साथ ही भारी बारिश हो सकती है।

पश्चिम बंगाल की खाड़ी में दूसरी बार आ रहा है ऐसा तूफान

एनडीआरएफ के डीजी एसएन प्रधान ने कहा कि यह तूफान महाचक्रवात के रूप में अभी भी है। पश्चिम बंगाल की खाड़ी में दूसरी बार आ रहा है ऐसा तूफान। इससे पहले 1999 में आया था। उन्होंने कहा कि 190 किमी तक जा सकती हैं तेज हवाएं। 

प्रधान ने कहा कि पिछले तूफान की क्षमता लेकर ही आएगा ये तूफान। किसी भी प्रकार की ढिलाई नहीं बरती जाएगी। राज्यों के साथ मिलकर चीजों को सही करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि लोग अपनी संपत्ति को छोड़कर जाना नहीं चाहते। उन्हें अपने घर व सामान की चिंता होती है। फिर भी ओडिशा और बंगाल में पिछले साल ही बुलबुल साइक्लोन ने इसी क्षेत्र में लैंड किया था। 

ओडिशा: 11 लाख लोगों को निकाला जा रहा

ओडिशा तो आदि हो चुका है। इस तरह के तूफानों से। लोगों को बाहर निकालने की संख्या बढ़ सकती है। समय और आकलन के हिसाब से बचाव कार्य होगा। पश्चिम बंगाल में दो लाख लोगों में से अधिकतर को सुरक्षित स्थान पर ले जाया जा चुका है। लोग बात मान रहे हैं और पास के सुरक्षित स्थानों पर जा रहे हैं।

चक्रवात 14 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से बढ़ रहा

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने जानकारी दी है कि पश्चिम-मध्य और पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी से सटा चक्रवाती तूफान अम्फान पिछले छह घंटे से 14 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से  उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ रहा है। आईएमडी ने बताया कि तूफान आज सुबह 5.30 बजे से बंगाल की खाड़ी के पश्चिम-मध्य पर केंद्रित है, जो ओडिशा के पारादीप से 520 किमी दूर है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here