Home Desh ये मेरा हिंदुस्तान: भतीजा मुसलमान तो चाचा हिन्दू, एक अलमारी में साथ...

ये मेरा हिंदुस्तान: भतीजा मुसलमान तो चाचा हिन्दू, एक अलमारी में साथ रखी हैं गीता-कुरान

भारत एक ऐसा देश है जिसके बारे में आज भी लोग भाईचारे की मिसाल देते हैं. इस देश में धर्म से बढ़कर इंसानियत को माना गया है. इस देश में कई ऐसे गाँव और शहर हैं जहां अलग अलग समुदाय और धर्म के लोग आपस में मिलजुल कर रहते हैं. यहां सब एक दूसरे के दुःख और सुख में साथ खड़े होते हैं.

ऐसे ही आगरा हाइवे पर कीठम गांव से अछनेरा ब्लाक में एक ऐसा गाँव बसा है जहां एक ही घर में हिन्दू और मुस्लिम दोनों धर्म को मानने वाले रहते हैं. इस गाँव का नाम खेड़ा साधन है. रिपोर्ट्स के मुताबिक राजन जो इस घर के मालिक हैं वो पेशे से मैकेनिक हैं और वो हिन्दू धर्म को मानते हैं लेकिन उनका भतीजा असरार मुसलमान है.

राजन से पूछने पर पता चलता है कि उनके दादा के दो भाई थे जिनमे से एक मुस्लिम हो गए थे. जबकि उनके दादा हिन्दू ही बने रहें. ऐसे में उनके दूसरे दादा से मुस्लिम परिवार बनता चला गया. लेकिन इससे उनके रिश्तों में कोई दरार नही आयी. वो आज भी एक दूसरे की ख़ुशी और ग़म में एक साथ खड़े होते हैं.

राजन बताते हैं सारे त्यौहार में दोनों परिवार मिलकर खुशियां मनाता है. जिस उत्साह के साथ दीपावली मनाई जाती है वही रौनक ईद पर भी होती है. वो आगे कहते हैं कि उनके घर में एक अलमारी है जिसमे साथ रखी गीता को वो पढ़ते हैं जबकि उनका भतीजा असरार क़ुरान पढ़ता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here